हम तुम एक कमरे में बंद हों और पुलिस आ जाए…  बंद कमरे में ईलू-ईलू करता पकड़ा गया पटवारी का करिंदा

हम तुम एक कमरे में बंद हों और पुलिस आ जाए… बंद कमरे में ईलू-ईलू करता पकड़ा गया पटवारी का करिंदा

जालन्धर (लखबीर)

तहसील काम्पलैक्स में आए दिन कोई न कोई बवाल उठ जाता है तथा यह बवाल कोई ओर नहीं बल्कि सरकारी मुलाजिमों, पटवारियों या अधिकारियों द्वारा रखे प्राइवेट करिंदों द्वारा ही मचाया जाता रहा है। इसी तरह एक नए मामले अनुसार पटवारियों के एक प्राइवेट करिंदे ने एक नए बवाल को जन्म दे दिया। जानकारी अनुसार इस बार पटवारी के प्राइवेट करिंदे ने शनिवार को छुट्टी वाले दिन एक लड़की को कमरे में घुसा रखा था, वह भी अन्दर से कुंडी लगा कर। इस मामले की भनक जब किसी तरह तहसील की सक्टियोरिटी को लगी तो उसने बंद कमरे से लड़की व प्राइवेट करिंदे को कुंडी खुलवा कर बाहर निकाला।

आखिर चाबी क्यों देते हैं पटवारी…

हैरानी की बात है कि जहां प्राइवेट करिंदे सारा दिन कमरों का श्रंगार बने रहते हैं, वहीं छुट्टी वाले दिन भी पटवारी उन्हें कमरों की चाबी किस अधिकार से सौंप देते हैं, यह समझ से परे वाली बात है। पटवारियों की हाजरी में सरकारी रिकार्ड से खिलवाड़ तथा छुट्टी वाले दिन प्राइवेट करिंदे लोगों की इज्जत से खिलवाड़ करने से भी गुरेज नहीं कर रहे।

माफी मंग कर छुड़वाई जान…

उक्त प्राइवेट करिंदे को कमरे से दबोचने के बाद मामला उछल गया। लोगों के इक्टठा होने के बाद जब हंगामे वाली स्थिती बनी तो उक्त प्राइवेट करिंदे ने कमरे में लड़के को कुंडी लगाने के मामले में माफी मंग कर आपनी जान छुड़वाना मुनासिब समझा।

पहले भी रहा चर्चा में…

बतादें कि उक्त प्राइवेट करिंदा पहली बार चर्चा में नहीं आया है, बल्कि इससे पहले भी किसी न किसी व्यक्ति से पंगा लेकर चर्चाओं का विषय बनता रहा है। आपने आप को रसूखदारों का करीबी बता कर रौब झाड़ने के लिए भी मशहूर है। इतना ही नहीं पहलवानी दिमाग रखने वाला उक्त प्राइवेट करिंदा कई बार सोशल मीडिया पर मनघड़त पोस्टें डालने कारण भी हाईलाइट रह चुका है।

पटवारी पर भी होनी चाहिए कार्रवाई…

लोगों की मानें तो पटवारी की शह पर ही करिंदे इस तरह की हरकतों को अंजाम दे रहे हैं, इसलिए पटवारियों पर भी कार्रवाई करनी जरूरी है। लड़की को कमरे में बंद करके कुंडी लगाने के मामले में पटवारी को भी कटहरे में खड़ा करना चाहिए ताकि आगे से इस तरह की हरकत न हो सके।