जालन्धर के एडवोकेट को जाली अटारनी दिखा बेची 105 मरले जमीन, शिकायत दर्ज

जालन्धर के एडवोकेट को जाली अटारनी दिखा बेची 105 मरले जमीन, शिकायत दर्ज

जालन्धर (लखबीर सिंह)

सरकारी दफ्तरों में खास तौर पर रैवेन्यू विभाग में अधिकारियों को गुमराह करके धोखाधड़ी के मामले आम ही प्रकाश में आते रहते हैं। इसी तरह का मामला जालन्धर के हरदेव नगरके एक एडवोकेट के साथ हुआ है। आरोप लगाते हुए एडवोकेट कुलदीप सिंह ने बताया कि जाली दस्तावेज के सहारे उनके साथ जालन्धर के ही कुछ लोगों ने ठगी का खेल खेल दिया, जिसकी शिकायत पुलिस विभाग को सौंप कर कार्रवाई की गुहार लगाई है। एडवोकेट ने आरोप लगाया कि राकेश कुमार ने आपने भाई के साथ मिलकर 105 मरले जमीन की स्पैशल अटारनी देकर लाखों की ठगी मारी है तथा पूरी घटना का मास्टर माइंड उसका भाई गणेश वधवा है। कुलदीप का आरोप है कि उसे 2011 में 105 मरले जमीन बेचने दौरान जो जनरल अटारनी तथा फर्द दी गई थी वह दोनों जाली पाई गई थी। साथ ही तहसीलदार के सामने अटारनी गलत औरत को खड़ी करके करवाई गई थी। उन्होंने कहा कि आज तक न तो उन्हें रकम वापिस दी गई है तथा नहीं उसके बदले कोई ओर जमीन ही दी गई है। पिछले 20 साल की फर्द निकालने के बाद सारी ठगी का खुलासा हो। तहसीलदार के सामने अटारनी करवाने दौरान जो वोटर कार्ड वगैरा लगाया गया था वह भी सब जाली पाए गए थे। फिल्हाल कुलदीप सिंह द्वारा पुलिस कमिश्नर को शिकायत सौंप इन्साफ की गुहार लगाई गई है। कुलदीप ने कहा कि वकीलों के वफद के साथ कई बार पुलिस अधिकारियों को मिल चुके हैं। फिल्हाल पुलिस मामले की छानबीन में जुट गई है तथा पुलिस ने भरोसा दिलाया है कि जल्दी ही आरोपियों को काबू कर लिया जाएगा।