चन्नी बोले- प्रशांत किशोर बनाएंगे चुनावी रणनीति, सिद्धू ने कहा- हाई कमान लेगा फैसला
Channi said - Prashant Kishor will make election strategy, Sidhu said - High command will take the decision

चन्नी बोले- प्रशांत किशोर बनाएंगे चुनावी रणनीति, सिद्धू ने कहा- हाई कमान लेगा फैसला

चंडीगढ़

पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत चन्नी ने दो दिन पहले कहा था कि पंजाब में 2022 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के लिए रणनीति प्रशांत किशोर बनाएंगे। चन्नी के इस बयान पर अब कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू का बयान आया है। उन्होंने कहा है कि प्रशांत किशोर के चुनावी रणनीति तय करने पर कांग्रेस कमान अंतिम फैसला करेगी। पंजाब में पार्टी उठापठक से गुजर रही कांग्रेस के सामने सबसे बड़ी चुनौती अपने किले को बचाने की है। इसके मद्देनजर जहां एक ओर कांग्रेस ने वहां अपने घर को दुरुस्त करना शुरू किया है। वहीं दूसरी ओर वह चुनाव की तैयारियों में भी जुट गई है। जहां एक ओर कैप्टन ने कांग्रेस की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया। जिसे हाईकमान ने स्वीकार कर लिया वहीं सिद्धू ने हाल ही में अपना इस्तीफा वापस ले लिया।

सिद्धू, चन्नी के बीच नजर आ रहीं दूरिया

पंजाब में सरकार और संगठन के बीच ठनी खींचतान कैप्टन बनाम सिद्धू से होते हुए सिद्धू बनाम चन्नी होती दिख रही है। हालांकि, हाईकमान लगातार दोनों को साथ मिलकर काम करने और चलने की हिदायत दे रहा है। दूसरी ओर, अपने पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह का रुख कांग्रेस के लिए अलग सिरदर्द बना है। मार्च की शुरुआत में पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के प्रधान सलाहकार के रूप में नियुक्त किशोर ने अगस्त में अपने पद से इस्तीफा दे दिया था। वहीं बंगाल में चुनाव रिजल्ट आने के बाद प्रशांत किशोर ने राजनीति रणनीतिकार से सन्यास लेने का ऐलान किया था।

टीएमसी के लिए गोवा में तैयार कर रहे रणनीति

किशोर वर्तमान में गोवा विधानसभा चुनावों के लिए टीएमसी के लिए रणनीति पर काम कर रहे हैं। उनका टीएमसी के साथ 2024 तक अनुबंध है। चन्नी ने प्रशांत किशोर पर कहा था कि हरीश रावत ने हाई कमान से बात के बाद उन्हें कहा है कि प्रशांत किशोर के साथ अपनी चुनावी योजना शेयर करें।

2017 में संभाली थी कमान

प्रशांत किशोर ने 2017 में पंजाब विधानसभा के दौरान कांग्रेस के चुनाव अभियान की कमान संभाली थी। पीके ने हाल में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के साथ राहुल और प्रियंका गांधी से भी मुलाकात की थी। इसके बाद उनके कांग्रेस में एंट्री की चर्चा भी शुरू हो गई थी। उससे पहले एनसीपी मुखिया शरद पवार के साथ प्रशांत किशोर ने बैक-टु-बैक मीटिंग की थी। तब 2024 के लिए तीसरे मोर्च के कयास लगाए जा रहे थे।

 

Channi said – Prashant Kishor will make election strategy, Sidhu said – High command will take the decision